Saturday, January 28, 2023
Home Crime पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का फूटा गुस्सा ,विधानसभा के सामने बैठे धरने...

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का फूटा गुस्सा ,विधानसभा के सामने बैठे धरने पर। तो वही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी पहुची उन्नाव।

उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता का दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में देर रात निधन हो गया। इस घटना के बाद पूरे देश में आक्रोश देखने को मिल रहा है।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव विधानसभा के सामने धरने पर बैठे हैं। अखिलेश यादव के साथ उनकी पार्टी के कई वरिष्ठ नेता भी धरने पर बैठे हैं।

अखिलेश यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि देश हैदराबाद की घटना को लेकर गुस्से में था। खासकर बहनें और माताएं। और उसके बाद उन्नाव की घटना उसी तरह से हुई। उन्नाव की घटना बीजेपी सरकार में पहली बार नहीं है, जो बेटी के साथ हुआ। वह बहादुर थी, उसकी आखिरी शब्द थे की वह जिंदा रहना चाहती थी। सफदरजंग के डॉक्टरों की कोशिशों के बाद भी उसकी जान नहीं बच पाई। हमारे लिए यह काला दिवस है। एक बेटी जो न्याय मांग रही थी हम उसे न्याय नहीं दे पाए।

उन्होंने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश की मौजूदा सरकार के राज में यह पहली घटना नहीं है। याद कीजिए जब मुख्यमंत्री आवास के सामने एक बेटी न्याय मांग रही थी और उसे आत्मदाह की कोशिश करनी पड़ी तब जाकर मुकदमा लिखा गया। याद कीजिए बाराबंकी के उस बेटी की घटना जो यहीं मुख्यमंत्री आवास पर आई थी न्याय मांगने के लिए। उसने भी आत्मदाह किया और बाद में उसकी जान नहीं बची। उन्नाव की एक बेटी का तो पूरा परिवार खो दिया। कौन दोषी था, भारतीय जनता पार्टी की सरकार दोषी थी। यह बेटी जिसकी जान गई है तो उसके भी कोई दोषी हैं तो वह सरकार है क्योंकि सरकार की जानकारी में था।

अखिलेश यादव ने आगे कहा कि जिन लोगों पर आरोप लगे हैं वो भारतीय जनता पार्टी से जुड़े लोग हैं। जब उसका पूरा शरीर जला तो वो भागी ताकि लोग उसकी गुहार सुनें। भारतीय जनता पार्टी सरकार पहले दिन से कह रही थी कि कानून-व्यवस्था ठीक की जाएगी। इसी सदन में मुख्यमंत्री ने कहा था। मुख्यमंत्री कहते हैं कि जो अपराध करेंगे उन्हें ठोक दिया जाएगा। लेकिन क्या वजह है, क्या कारण है कि अपराधी यहीं पर हैं। जो बात सदन में कही गई हो। उसके बाद भी सरकार एक बेटी की जान नहीं बचा पाई।

बीजेपी सरकार में ना बेटियां सुरक्षित हैं, न सड़क पर बेटियों का सम्मान है। क्या यही भारतीय जनता पार्टी का नारा था???

वही प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी और प्रदेश अध्यक्ष अजय सिंह भी नजर आ रहे हैं। प्रियंका गांधी परिवार से मिलने उनके घर के अंदर गई हैं। वे परिजनों से अकेले में मुलाकात कर यह जानना चाहती हैं कि परिवार अब क्या चाहता है।

RELATED ARTICLES

युवामंथन संस्थानो में G20 आयोजनो के लिए कैंपस शेरपा बनाने की तलाश कर रहा है|

इस समय पूरे विश्व में भारत का एक अलग ही डंका गूँज रहा है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत दिन प्रतिदिन नई...

अस्सी घाट सुबह ए बनारस मंच से नशा मुक्त भारत यात्रा का शुभारंभ हुआ,

अस्सी घाट सुबह ए बनारस मंच से नशा मुक्त भारत यात्रा का शुभारंभ हुआ, जिसमे मुख्य अतिथि डॉ कमलेश पांडेय (पूर्व कमिश्नर भारत सरकार)...

डॉ अंशु शर्मा सहित 21 अन्य उच्च हस्तियों को दीक्षांत समारोह में डॉक्टरेट की मानद उपाधि से किया गया सम्मानित

गुरुग्राम: आई. आई. पी. पी. टी. फाउंडेशन द्वारा 8 जनवरी, 2023 को होटल लीला एंबियंस गुरुग्राम में सत्रहवाँ सोरबन अंतर्राष्ट्रीय दीक्षांत समारोह आयोजित किया...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

युवामंथन संस्थानो में G20 आयोजनो के लिए कैंपस शेरपा बनाने की तलाश कर रहा है|

इस समय पूरे विश्व में भारत का एक अलग ही डंका गूँज रहा है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत दिन प्रतिदिन नई...

अस्सी घाट सुबह ए बनारस मंच से नशा मुक्त भारत यात्रा का शुभारंभ हुआ,

अस्सी घाट सुबह ए बनारस मंच से नशा मुक्त भारत यात्रा का शुभारंभ हुआ, जिसमे मुख्य अतिथि डॉ कमलेश पांडेय (पूर्व कमिश्नर भारत सरकार)...

डॉ अंशु शर्मा सहित 21 अन्य उच्च हस्तियों को दीक्षांत समारोह में डॉक्टरेट की मानद उपाधि से किया गया सम्मानित

गुरुग्राम: आई. आई. पी. पी. टी. फाउंडेशन द्वारा 8 जनवरी, 2023 को होटल लीला एंबियंस गुरुग्राम में सत्रहवाँ सोरबन अंतर्राष्ट्रीय दीक्षांत समारोह आयोजित किया...

मुंबई में बोनी कपूर, राहुल मित्रा, सुभाष घई, जैकी श्रॉफ, सुनील शेट्टी और अन्य सेलेब्स से मिले योगी आदित्यनाथ

नई दिल्ली: इंडियन मीडिया वेलफेयर एसोसिएशन के तत्वावधान में लगातार 8वीं बार यमुना ट्राफी -2023 का भव्य आगाज सीडब्ल्यूजी ग्राउंड, अक्षरधाम पर आयोजित किया...

Recent Comments