Saturday, January 15, 2022
Home Crime BJP बिना मुख्यमंत्री चेहरे के उतरेगी चुनावी मैदान में , मुख्यमंत्री चेहरा...

BJP बिना मुख्यमंत्री चेहरे के उतरेगी चुनावी मैदान में , मुख्यमंत्री चेहरा BJP के लिए BAD LUCK !

निर्वाचन आयोग ने कल निर्वाचन भवन में दिल्ली विधानसभा चुनाव की घोषणा प्रेस कांफ्रेंस में की। चुनाव आयोग ने बताया कि दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों पर 8 फरवरी को चुनाव होंगे और 11 फरवरी को मतों की गणना के बाद नतीजे आएंगे। चुनाव आयोग ने बताया कि दिल्ली में तत्काल प्रभाव से आचार संहिता लागू हो गई है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव का बिगुल बजते हीं दिल्ली की सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी अपने कामकाज और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सहारे सत्ता में वापसी की उम्मीद लगाए हुए है तो बीजेपी केंद्र सरकार के काम और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चेहरे को सामने रख जीत की कवायद में है. यही वजह है कि बीजेपी ने दिल्ली में मुख्यमंत्री के चेहरे के बजाय सामूहिक और केंद्रीय नेतृत्व के सहारे चुनावी मैदान में उतरने का फैसला किया है. केंद्रीय गृहमंत्री और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चुनाव लड़ने का संकेत देकर कमोबेश यही बात कही है.
दरअसल दिल्ली के चुनाव संग्राम में बीजेपी को मुख्यमंत्री के चेहरे के साथ उतरने का दांव कभी नहीं सुहाया है. दिल्ली में 1993 से लेकर 2015 तक छह विधानसभा चुनाव हुए हैं. बीजेपी इनमें से पांच बार मुख्यमंत्री के चेहरे के साथ साथ मैदान में उतरी थी और उसे हर बार हार का सामना करना पड़ा पड़ा. दिल्ली में महज एक बार बीजेपी ने सीएम फेस की घोषणा नहीं की थी और तब दिल्ली में सरकार बनाने में कामयाब रही थी. इसीलिए पिछले दिनों बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को मुख्यमंत्री पद का चेहरा बनाने की घोषणा करने के बाद केंद्रीय मंत्री और दिल्ली के सहप्रभारी हरदीप पुरी पलट गए थे और इसे वापस ले लिया था.

कल शाम से दिल्ली में चुनाव आचार संहिता लागू हो चुका है ।

दिल्ली विधानसभा में कुल 70 सीटें।

14 जनवरी- अधिसूचना जारी होगी।
21 जनवरी- नामांकन भरने की अंतिम तारीख है।
22 जनवरी- नामांकन पत्रों की स्क्रूटनी होगी।
24 जनवरी- नाम वापस लेने की आखिरी तारीख।
8 फरवरी- चुनाव होंगे।
11 फरवरी- नतीजे आएंगे।
दिल्ली में एक करोड़ 46 लाख वोटर।
चुनाव में 90 हजार कर्मचारियों की जरूरत।
दिल्ली में 2689 जगहों पर वोटिंग होगी।
13750 पोलिंग बूथ पर डाले जाएंगे वोट।

RELATED ARTICLES

गंगा सेवा समिति और ब्रह्मराष्ट्र एकम द्वारा मकर संक्रांति पर किया गया अन्नदान महादान

  सनातन धर्म मे मान्यता अनुसार मकर संक्रांति के पावन पर्व पर आज का दान एक ऐसा कार्य है, जिसके जरिए हम न केवल धर्म...

Galgotias University ने शोध और नवाचार में उत्कृष्ट योगदान के लिये शिक्षकों और शोधार्थियों का किया सम्मान

गलगोटिया विश्वविद्यालय के अंतर्गत संचालित यूनिवर्सिटी सेंटर ऑफ रिसर्च एंड डेवलपमेंट द्वारा 11 जनवरी, 2022 को द्वितीय शोध एवं नवाचार पुरस्कार समारोह का आयोजन...

प्रांतीय ब्राह्मण सम्मेलन में बोले- पंडित सुनील भराला “जो ब्राह्मण हित में कार्य करेगा वही राज्य में राज करेगा”

गाजियाबाद: पंडित सुनील भराला  ने  कहा कि उत्तर प्रदेश देश का एक विशाल राज है यहां रहने वाले पदाधिकारी को अपने राज्य में महत्वपूर्ण...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

गंगा सेवा समिति और ब्रह्मराष्ट्र एकम द्वारा मकर संक्रांति पर किया गया अन्नदान महादान

  सनातन धर्म मे मान्यता अनुसार मकर संक्रांति के पावन पर्व पर आज का दान एक ऐसा कार्य है, जिसके जरिए हम न केवल धर्म...

Galgotias University ने शोध और नवाचार में उत्कृष्ट योगदान के लिये शिक्षकों और शोधार्थियों का किया सम्मान

गलगोटिया विश्वविद्यालय के अंतर्गत संचालित यूनिवर्सिटी सेंटर ऑफ रिसर्च एंड डेवलपमेंट द्वारा 11 जनवरी, 2022 को द्वितीय शोध एवं नवाचार पुरस्कार समारोह का आयोजन...

प्रांतीय ब्राह्मण सम्मेलन में बोले- पंडित सुनील भराला “जो ब्राह्मण हित में कार्य करेगा वही राज्य में राज करेगा”

गाजियाबाद: पंडित सुनील भराला  ने  कहा कि उत्तर प्रदेश देश का एक विशाल राज है यहां रहने वाले पदाधिकारी को अपने राज्य में महत्वपूर्ण...

बुधवार को पूर्वोत्तर रेलवे गोरखपुर जोन के द्वारा ( जेड आर यू सी सी) सदस्यों की 109 वीं बैठक संपन्न हुई

गोरखपुर यूपी: रेल मंत्रालय के निर्देशानुसार एक मीटिंग पूर्वोत्तर रेलवे गोरखपुर जोन के द्वारा क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्श दात्री समिति ( जेड आर यू...

Recent Comments