Saturday, January 28, 2023
Home Daily Diary News नकारात्मकता भारत छोड़ो की मुहिम को आरजेएस से जुड़े 25 राज्यों में...

नकारात्मकता भारत छोड़ो की मुहिम को आरजेएस से जुड़े 25 राज्यों में मिला समर्थन

नई दिल्ली ।देश की आजादी में 9 अगस्त 1942 का खास स्थान है जब अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन शुरू हुआ ।तत्पश्चात् 15 अगस्त 1947 को देश आजाद हुआ ।इसी के मद्देनजर आज देश में फैली नकारात्मकता को दूर करने के लिए  25 राज्यों से जुड़े आरजेएस फैमिली और पॉजिटिव मीडिया को प्रेरित करने के लिए राम जानकी संस्थान और तपसिल जाति आदिवासी प्रकटन्न सैनिक कृषि विकास शिल्प केंद्र, हुगली,प.बंगाल द्वारा नकारात्मकता भारत छोड़ो राष्ट्रीय मुहिम शुरू की गई जिसका भरपूर समर्थन मिला। आरजेएस के राष्ट्रीय संयोजक उदय कुमार मन्ना ने कहा कि यह मुहिम अगले गणतंत्र दिवस 2021 तक चलेगी।   आगामी 15 अगस्त 74वें स्वाधीनता दिवस की थीम नकारात्मकता भारत छोड़ो पर देशभक्ति के रंगारंग कार्यक्रम  का राष्ट्रीय वेबिनार ढाई बजे से आरंभ होगा। इसमें आरजेएस स्टार गायक मोहित खन्ना, ताल ग्रुप और आरजेएस स्टार गायक रितेश मिश्रा आदि स्टूडियो से रंगारंग कार्यक्रम पेश करेंगे।
सोशल मीडिया पर भद्दे, अपमानजनक, हिंसक  और असंवैधानिक भाषा को रोकने के लिए आज उदय मन्ना फेसबुक लाइव का कार्यक्रम हुआ। इसमें देश के लिए चलती ट्रेन में काकोरी कांड को अंजाम देने वाले क्रांतिवीरों रामप्रसाद बिस्मिल, अशफाक उल्ला खां , ठाकुर रोशन सिंह, राजेंद्र लाहिड़ी और शचींद्रनाथ सान्याल सहित अन्य क्रांतिवीरों, सबसे लंबे 30 साल तक जेल की यातना सहने वाले स्वतंत्रता सेनानी त्रैलोक्यनाथ चक्रवर्ती की पुण्यतिथि और साहित्यकार शिवपूजन सहाय की जयंती पर श्रद्धांजलि दी गई और विश्व आदिवासी दिवस पर चर्चा हुई।
आरजेएस फैमिली के पूर्वजों की स्मृति में देशभर से महापुरुषों के नाम राष्ट्रीय सम्मान घोषित किए जा रहे हैं।
विश्व ब्राह्मण महापरिषद् अंतर्राष्ट्रीय संगठन शाखा तिरोड़ी, मध्य प्रदेश के संयोजक मनोज त्रिवेदी द्वारा अपने पिताजी स्व० प्रयाग जी भाई जागेश्वर त्रिवेदी और माता जी स्व० श्रीमती चंद्रप्रभा प्रयाग जी त्रिवेदी की स्मृति में देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद आरजेएस भारत- उदय राष्ट्रीय सम्मान2021 की घोषणा की। वहीं समाजसेवी माइन ऑनर जाम संचालक श्रीमती नम्रता उपाध्याय अपने पिताजी स्व० श्री चिमनलाल लाभशंकर रावल और माता जी स्व० श्रीमती रामा गौरी चिमनलाल रावल की स्मृति में आरजेएस भारत-उदय डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम राष्ट्रीय सम्मान2021 नई दिल्ली में प्रदान करेंगी।
RELATED ARTICLES

आजादी की‌ अमृत गाथा के 119वें संस्करण में जुटे लोगों ने महापुरुषों की स्मृति को नमन् कर सकारात्मक जीवन का लिया संकल्प

नई दिल्ली। भारत सरकार के आजादी का अमृत महोत्सव की कड़ी में 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर राम जानकी संस्थान, आरजेएस और आरजेएस पॉजिटिव...

गणतंत्र दिवस महोत्सव में दर्जन भर आरजेएसियन्स ने आगामी आजादी की अमृत गाथा आयोजित करने की घोषणा की।

नई दिल्ली। भारत सरकार के आजादी का अमृत महोत्सव की कड़ी में 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर राम जानकी संस्थान, आरजेएस और आरजेएस पॉजिटिव...

गणतंत्र दिवस पर आरजेएसिएन्स सह-आयोजकों‌ की आजादी की‌ अमृत गाथा का फरवरी 2023 एडिशन्स लांच

नई दिल्ली।‌अगले वित्त वर्ष 2023 के लिए आम बजट या कहें‌ केंद्रीय बजट 2023 वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को पेश करेंगी. राम जानकी...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

आजादी की‌ अमृत गाथा के 119वें संस्करण में जुटे लोगों ने महापुरुषों की स्मृति को नमन् कर सकारात्मक जीवन का लिया संकल्प

नई दिल्ली। भारत सरकार के आजादी का अमृत महोत्सव की कड़ी में 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर राम जानकी संस्थान, आरजेएस और आरजेएस पॉजिटिव...

गणतंत्र दिवस महोत्सव में दर्जन भर आरजेएसियन्स ने आगामी आजादी की अमृत गाथा आयोजित करने की घोषणा की।

नई दिल्ली। भारत सरकार के आजादी का अमृत महोत्सव की कड़ी में 74वें गणतंत्र दिवस के अवसर राम जानकी संस्थान, आरजेएस और आरजेएस पॉजिटिव...

गणतंत्र दिवस पर आरजेएसिएन्स सह-आयोजकों‌ की आजादी की‌ अमृत गाथा का फरवरी 2023 एडिशन्स लांच

नई दिल्ली।‌अगले वित्त वर्ष 2023 के लिए आम बजट या कहें‌ केंद्रीय बजट 2023 वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को पेश करेंगी. राम जानकी...

युवामंथन संस्थानो में G20 आयोजनो के लिए कैंपस शेरपा बनाने की तलाश कर रहा है|

इस समय पूरे विश्व में भारत का एक अलग ही डंका गूँज रहा है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत दिन प्रतिदिन नई...

Recent Comments