Tuesday, June 6, 2023
Home Business कारचर इंडिया ने दी पीपीई किट जबकि प्रयास ने सफाई कर्मचारियों को...

कारचर इंडिया ने दी पीपीई किट जबकि प्रयास ने सफाई कर्मचारियों को दिया अपशिष्ट प्रबंधन प्रशिक्षण

दिल्ली: साफ सफाई के क्षेत्र में अग्रणी कारचर इंडिया ने गैर सरकारी संगठन प्रयास के साथ मिलकर पूर्वी दिल्ली में 500 कूड़ा बीनने वालों को पीपीई किट मुहैया करवाई जबकि प्रयास ने उन्हें अपशिष्ट प्रबंधन प्रशिक्षण दिया। कारचर ने इस साझेदारी से जहांगीरपुरी के सफाई कर्मचारियों के स्वास्थ्य को ठीक रखने की दिशा में एक ठोस कदम उठाया है।

जहां एक ओर पीपीई किट कचरा बीनने वालों का बेहतर स्वास्थ्य सुनिश्चित करेगी, वहीं प्रयास द्वारा दिये गए अपशिष्ट प्रबंधन प्रशिक्षण से वे अपने काम को बेहतर तरीके से अंजाम दे पाएंगे।

कचरा बीनने वालों द्वारा बहुत सा कचरा असंगठित क्षेत्र द्वारा उठाया जाता है। ऐसे कर्मचारियों की न तो नौकरी की गारंटी होती है और न ही निश्चित वेतन की सामाजिक सुरक्षा और वे अक्सर गरीबी के नीचे रहकर संक्रमण, बीमारियों और तपेदिक की चपेट में आते रहते हैं।

कूड़ा बीनने का ज्यादातर काम चूंकि असंगठित क्षेत्र द्वारा किया जाता है इसलिए उठाये गए कचरे की मात्रा का आकलन करना मुश्किल है, लेकिन नगर पालिकाएं देश के कचरे की काफी बड़ी मात्रा का प्रबंधन करती हैं लेकिन फिर भी बहुत से लोगों के पास उचित अपशिष्ट निपटान प्रणाली या पीपीई किट उपलब्ध नहीं होती।

कारचर इंडिया पिछले 11 वर्षों से भारत में काम कर रहा है और घरों, व्यवसायों और उद्योगों के लिए वर्ल्ड क्लास सफाई समाधान उपलब्ध करवा रहा है। वहीं प्रयास वंचित बच्चों, युवाओं और महिलाओं को कौशल विकास के जरिये सशक्त बनाने का प्रयास करता है।

“कारचर इंडिया स्वच्छता और स्वच्छ वातावरण के लिए प्रतिबद्ध है। हमने कूड़ा बीनने वालों को बेहतर स्वास्थ्य देने और उन्हें सम्मान से जीने की दिशा में एक छोटी सी पहल की है। इस प्रकार हम सरकार के स्वच्छ भारत अभियान में अपना योगदान दे रहे हैं,” श्री जतिंदर कौल, प्रबंध निदेशक – कारचर इंडिया ने बताया।

सेवानिवृत्त। डीजीपी और प्रयास संस्थापक श्री आमोद कंठ ने कहा, “वर्षों से हमारे समाज ने सफाईकर्मियों के काम को उतना महत्त्व नहीं दिया जिसके वो हकदार हैं। प्रयास उन लोगों के सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है। हमारा उद्देश्य समाज के उन वर्गों के उत्थान की दिशा में काम करना है जिससे वो भी और गरिमामय जीवन जी सकें। मैं पूरे समाज की ओर से सफाई कर्मचारियों का आभार व्यक्त करता हूं कि उन्होंने हमारे लिए स्वच्छ वातावरण सुनिश्चित किया है।

RELATED ARTICLES

इंदिरापुरम इंस्टीट्यूट ऑफ हायर स्टडीज (आईआईएचएस) में शानदार ‘यादें-2023’ का आयोजन किया गया

गाजियाबाद । इंदिरापुरम इंस्टीट्यूट ऑफ हायर स्टडीज (आईआईएचएस) में शानदार ‘यादें-2023’ का आयोजन किया गया । छात्र-छात्राओं ने गीत की धुन पर एकल और...

प्लास्टिक का समाधान और बागवानी पर केंद्रित होगा आरजेएस पीबीएच का पर्यावरण दिवस कार्यक्रम

नई दिल्ली। बदलते समय में प्लास्टिक के सामानों और थैलियों का उपयोग बहुत ज्यादा हो रहा है। इससे मुक्ति दिलाने के लिए इस साल...

एएएफटी यूनिवर्सिटी ऑफ मीडिया एंड आर्ट्स व आरजेएस पाॅजिटिव मीडिया ने हिन्दी पत्रकारिता दिवस सम्मान समारोह आयोजित किया

नई दिल्ली। आज हिन्दी पत्रकारिता दिवस पर एएएफटी यूनिवर्सिटी ऑफ मीडिया एंड आर्ट्स और राम जानकी संस्थान के आर जे एस पाजिटिव मीडिया‌ व...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

इंदिरापुरम इंस्टीट्यूट ऑफ हायर स्टडीज (आईआईएचएस) में शानदार ‘यादें-2023’ का आयोजन किया गया

गाजियाबाद । इंदिरापुरम इंस्टीट्यूट ऑफ हायर स्टडीज (आईआईएचएस) में शानदार ‘यादें-2023’ का आयोजन किया गया । छात्र-छात्राओं ने गीत की धुन पर एकल और...

प्लास्टिक का समाधान और बागवानी पर केंद्रित होगा आरजेएस पीबीएच का पर्यावरण दिवस कार्यक्रम

नई दिल्ली। बदलते समय में प्लास्टिक के सामानों और थैलियों का उपयोग बहुत ज्यादा हो रहा है। इससे मुक्ति दिलाने के लिए इस साल...

एएएफटी यूनिवर्सिटी ऑफ मीडिया एंड आर्ट्स व आरजेएस पाॅजिटिव मीडिया ने हिन्दी पत्रकारिता दिवस सम्मान समारोह आयोजित किया

नई दिल्ली। आज हिन्दी पत्रकारिता दिवस पर एएएफटी यूनिवर्सिटी ऑफ मीडिया एंड आर्ट्स और राम जानकी संस्थान के आर जे एस पाजिटिव मीडिया‌ व...

हिंदी पत्रकारिता दिवस पर मारवाह स्टूडियो में होगी परिचर्चा, पत्रकारों का सम्मान व हास्य-योगाभ्यास

नई दिल्ली। 30 मई 1826 को संपादक जुगल किशोर शुक्ल द्वारा प्रकाशित हिंदी भाषा के पहले समाचार पत्र उदन्त मार्तण्ड की याद में मनाया...

Recent Comments